Home Shayari Gulzar shayari Quotes images love sad romantic Shayari Hindi story

Gulzar shayari Quotes images love sad romantic Shayari Hindi story

0

Gulzar Romantic Shayari Quotes


यूँ भी इक बार तो होता कि समुंदर बहता
कोई एहसास तो दरिया की अना का होता


छोटा सा साया था, आँखों में आया था
हमने दो बूंदों से मन भर लिया


मेरे दिल में एक धड़कन तेरी हैं,
उस धड़कन की कसम तू ज़िन्दगी मेरी है।
मेरी तो हर सांस में एक सांस तेरी हैं,
जो कभी सांस जो रुक जाए तो मौत मेरी हैं।।

hindi shayari by gulzar


आप के बाद हर घड़ी हम ने
आप के साथ ही गुज़ारी है


सामने आया मेरे, देखा भी, बात भी की
मुस्कुराए भी किसी पहचान की खातिर
कल का अखबार था, बस देख लिया, रख भी दिया


इस दिल का कहा मानो  एक काम कर दो,
एक बे-नाम सी मोहब्बत मेरे नाम कर दो।
मेरी ज़ात पर फ़क़त इतना अहसान कर दो,
किसी दिन सुबह को मिलो, और शाम कर दो।।



दिन कुछ ऐसे गुज़ारता है कोई
जैसे एहसान उतारता है कोई


गीली मेहँदी की खुश्बू झूठ मूठ के वादे,
सब याद करादो, सब भिजवा दो,
मेरा वो सामान लौटा दो।।


बेहिसाब हसरते ना पालिये
जो मिला हैं उसे सम्भालिये


Sad Shayari Gulzar


हम तो समझे थे कि हम भूल गए हैं उनको
क्या हुआ आज ये किस बात पे रोना आया


ना दूर रहने से रिश्ते टूट जाते हैं,
ना पास रहने से जुड़ जाते हैं।
यह तो एहसास के पक्के धागे हैं,
जो याद करने से और मजबूत हो जाते हैं।


तुम्हारी ख़ुश्क सी आँखें भली नहीं लगतीं
वो सारी चीज़ें जो तुम को रुलाएँ, भेजी हैं


कहू क्या वो बड़ी मासूमियत से पूछ बैठे है,
क्या सचमुच दिल के मारों को बड़ी तकलीफ़ होती है।


समेट लो इन नाजुक पलो को
ना जाने ये लम्हे हो ना हो
हो भी ये लम्हे क्या मालूम शामिल
उन पलो में हम हो ना हो


ऐ हवा उनको कर दे खबर मेरी मौत की,
और कहना कि।
कफ़न की ख्वाहिश में मेरी लाश,
उनके आँचल का इंतज़ार करती है।


खुली किताब के सफ़्हे उलटते रहते हैं
हवा चले न चले दिन पलटते रहते है


आगे और भी

Gulzar hindi Poetry shayari Quotes love sad romantic Shayari पड़ने के लिए

पेज 4 में जाये 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exit mobile version